Hindi Shayari Collection, Urdu Shayari in hindi

नहीं बीत रहा एक पल भी तेरे बीना,
फिर कैसे बितेगी ये जिन्दगी तु ही बता ||
साँसों का ताना-बाना चलता रहा मगर,
जिंदगी तो वही थी जो तेरे साथ कटी थी ||
ये जो तस्वीर भेजी है तुमने…
ये तसल्ली है या सहारा है ||
कुछ यूँ लिखूँ तुझे…लफ़्जों में उतार कर..
कि ज़िंदगी भर वो लफ़्ज़.. ठहरे रहें.. मेरे लबों पर ||
फिर यूँ हुआ कि दर्द की लज़्ज़त भी छिन गयी
एक शख़्स ने मुझे मोम से पत्थर बना दिया ||
तसव्वुर में हमारे आये क्यों थे
यहां पर तो हमारी ही चलेगी ||
उसका पीछा किया तो राज़ खुला
इक परी भी ज़मीं पे रहती है ||

थकन, टूटन, उदासी, ऊब, तन्हाई, अधूरापन 
तुम्हारी याद के संग इतना लम्बा कारवाँ क्यूँ है ..?
तेरी खुशबू से जो वाकिफ़ नही हैं
वो फूलों की ग़ुलामी कर रहे हैं ||
गुजारिश है इतनी सी भूला न देना
दिल में न सही यादों में जगह देना ||
मेरी मुहब्बत की हद न जान पाओगे
हम ज़िंदगी गुजार देगें तेरे इंतजार में ||
दर्द बनकर ही रह जाओ हमारे साथ
सुना है दर्द हमेशा साथ रहता है||
यूँ न चाहो हमें की मोहब्बत को खुद पर गुरुर हो जाये
कुछ यूँ चाहो, कि लकीरों में हमें लिखने को, ख़ुदा भी मजबूर हो जाये||
मौसम गए सुकून गया ज़िन्दगी गई
दीवानगी की आग में क्या-क्या गया न पूछ||

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *